Monthly Magzine
Monday 20 Nov 2017

अक्षर पर्व June   2016 (अकं 201)  की रचनायें

  • फरवरी अंक में प्रस्तावना में ललित जी ने हिंदी के मानक शब्दकोशों के बारे में अपना चिंतन और चिंता व्यक्त की है।  ( पत्र  )
  • By : प्रो.भगवानदास जैन,     View in Text Format    |     PDF Format
  • अप्रैल 16 का अंक प्राप्त हुआ। महेंद्र राजा जैन की ध्यानाकर्षक टिप्पणी पढ़ी। ( रचना वार्षिकी  )
  • By : डॉ.शंकर मोहन झा     View in Text Format    |     PDF Format
  • अक्षरपर्व फरवरी अंक कई अंकों में विशिष्ट लगा। ललित सुरजन जी की प्रस्तावना और श्याम सुंदर दास की हिंदी शब्द सागर के प्रथम संस्करण की भूमिका अच्छी लगी। ( रचना वार्षिकी  )
  • By : रामनिहाल गुंजन     View in Text Format    |     PDF Format
  • कहानी विशेषांकों के दोनों भागों की जितनी प्रशंसा की जाए कम है। ( पत्र  )
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • मार्च अंक के उपसंहार में मकबूल शाइर निदा फाज़़ली की शाइरी पर सर्वमित्रा जी के तथ्यपरक, तर्कपूर्ण उद्धरण, शाइर की मकबूलियत को दो बाला करते हैं। ( प्रस्तावना  )
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format