Monthly Magzine
Thursday 23 Nov 2017

पूरनचंद बाली \'नमन\', की रचनायें

  • जुलाई अंक की चारों कहानियां, विशेषकर \'जिदÓ बहुत पठनीय है, \'जिदÓ में कथाकार वीरा चतुर्वेदी ने एक बहुत ही सामान्य विषय को यूनिवर्सल अपील के क्लासिकल स्तर तक उठा दिया है,
  • February  2016   ( अंक197 )
    By :     View in Text Format    |     PDF Format
  • जुलाई अक्षर पर्व में डॉ. सुनील केशव देवधर का आलेख, रेडियो की भाषा, बच्चों के मूल संस्कारों से जुड़ी बहुत महत्वपूर्ण रचना है
  • November  2016   ( अंक206 )
    By :     View in Text Format    |     PDF Format