Monthly Magzine
Wednesday 23 May 2018

सितंबर अंक पढ़ा। बेहद सुंदर कलेवर, उतना ही सुहाना कंटेंट। महाश्वेता देवी पर दोनों आलेख प्रेरणादायक हैं। प्रत्येक लेखक कवि को पढऩा चाहिये।

-पूनम मिश्रा
पिलानी (राज.)

सितंबर अंक पढ़ा। बेहद सुंदर कलेवर, उतना ही सुहाना कंटेंट। महाश्वेता देवी पर दोनों आलेख प्रेरणादायक हैं। प्रत्येक लेखक कवि को पढऩा चाहिये। मॉं का जाना साहित्यजगत को सूना कर गया। कहानियां सभी अच्छी हैं। राजी सेठ जी का अपना कमरा, दिल में बसेरा बना गया। कविताएं सुंदर हैं।