Monthly Magzine
Thursday 23 Nov 2017

व्हाट्स-एपिया रोमांस का विमोचन

संस्कृति समाचार
स्वराज भवन के सभागार में शिवना प्रकाशन द्वारा आयोजित साहित्यिक कार्यक्रम में भोपाल के यातायात एएसपी समीर यादव द्वारा लिखित पुस्तक व्हाट्स-एपिया रोमांस का विमोचन किया गया। इस अवसर पर वक्ता के रूप में सुप्रसिद्ध शायरा नुसरत मेहदी, युवा कवि अशोक कुमार पाण्डेय तथा कहानीकार पंकज सुबीर उपस्थित थे।
कार्यक्रम के प्रारंभ में चर्चित पुस्तक व्हाट्स-एपिया रोमांस का अतिथियों द्वारा विमोचन किया गया। पुस्तक पर बोलते हुए उर्दू अकादमी की सचिव नुसरत मेहदी ने कहा कि इन दिनों हिन्दी-उर्दू साहित्य में खूब नये प्रयोग हो रहे हैं। इन प्रयोगों का उद्देश्य युवाओं को साहित्य की तरफ मोडऩा है। इस पुस्तक की लोकप्रियता यह बता रही है कि यह प्रयोग सफल भी हो रहे हैं।  चर्चित युवा कवि अशोक कुमार पाण्डेय ने कहा कि समीर यादव ने व्हाट्स-एपिया रोमांस के द्वारा जो प्रेम कथाएँ बुनी हैं वह अपने बिम्बों तथा शिल्प के कारण अनूठी बन गई हैं। व्हाट्स एप जैसे विषय पर इतनी संवेदनशील कहानियाँ लिख देना लेखक की एक बड़ी सफलता है। कहानीकार पंकज सुबीर ने कहा कि समय के साथ परिवर्तन आते हैं और उन परिवर्तनों को प्रभाव सब जगह दिखाई देता है। साहित्य उससे अछूता नहीं रह सकता। यह नए समय की कहानियाँ हैं। ये कहानियाँ युवाओं को अपनी तरफ खींच रही हैं। समीर यादव ने अपने लेखकीय उद्बोधन में कहा कि उन्हें नहीं पता था कि उनके लेखन का यह पहला ही प्रयास इस प्रकार से स्वीकार किया जाएगा पाठकों द्वारा।
उल्लेखनीय है कि इस पुस्तक के विमोचन के पूर्व ही पुस्तक का प्रथम संस्करण पूरी तरह बिक गया तथा कार्यक्रम में दूसरे संस्करण का विमोचन किया गया। कार्यक्रम के दूसरे चरण में अतिथि कवियों नुसरत मेहदी तथा अशोक कुमार पाण्डेय द्वारा काव्य पाठ किया गया। कार्यक्रम का संचालन राजेश मिश्रा द्वारा किया गया। आयोजन की सहयोगी संस्था मंतव्य की ओर से अतिथियों को स्मृति चिह्न पल्लवी त्रिवेदी एवं मुकेश तिवारी ने प्रदान किये गये। इस अवसर पर बड़ी संख्या में साहित्यकार, पत्रकार तथा पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। अंत में आभार शिवना प्रकाशन के प्रकाशक शहरयार ने व्यक्त किया।
प्रस्तुति : शहरयार