Monthly Magzine
Tuesday 20 Aug 2019

Current Issue

रोक नहीं सकता आँसू जो

फूट पड़े क्रन्दन से

बाँध नहीं सकता शब्दों को

शब्दों के बन्धन से

हैं झर रहे पत्ते

विचारों की टहनियों से

सूखकर,

कुछ हवाओं की हलकी

थपेड़ों से

कुछ ओस की बूँदों से

रोक नहीं पा रही हैं

शाख से

दीख रही हैं

गैर,

Read More

Current Issue Article

  • प्रस्तावना
  • By : ललित सुरजन     View in Text Format    |     PDF Format
  • गिरिजा कुमार माथुर औैर तार सप्तक
  • By : रमेश दवे     View in Text Format    |     PDF Format
  • और कितने 'मंडलाचरण
  • By : मीनाक्षी जोशी     View in Text Format    |     PDF Format
  • नई पहचान
  • By : दिलीप कुमार अर्श     View in Text Format    |     PDF Format
  • भीकू की बीवी
  • By : जाफर मेहदी जाफरी     View in Text Format    |     PDF Format
  • अलबत्ता
  • By : केशव शरण     View in Text Format    |     PDF Format
  • रोक नहीं सकता आँसू जो
  • By : आनन्द कुमार राय     View in Text Format    |     PDF Format
  • 1) अधपके शब्दों के नीचे
  • By : ज्योति मोदी     View in Text Format    |     PDF Format
  • चरखा और नगर
  • By : एम. कमालुद्दीन अहमद     View in Text Format    |     PDF Format
  • बस पहुंच रहा हूं
  • By : रमेशचंद मीणा     View in Text Format    |     PDF Format
View All Article »