Monthly Magzine
Tuesday 29 Jul 2014

Current Issue

ललित सुरजन

इस  संबंध में श्रीयुत गांधी का परिश्रम और अध्यवसाय सर्वथा प्रशंसनीय है। आपने ही अफरीका के हिन्दुस्तानियों में जीवन का संचार किया है। आप जूनागढ़ के निवासी हैं। बैरिस्टर हैं। तो भी आप जेल जाने, नाना प्रकार की यातनाएं भोगने और तिरस्कार पाने पर भी अपने कर्तव्य से च्युत नहीं हुए। आपकी धर्म-पत्नी, आपके सुयोग्य पुत्र-सभी आपके व्रत के व्रती हुए। आपके सहायकों ने भी आपका पूरा साथ दिया। उनमें से मिस्टर पोलक और मिस्टर कालनबाक आदि विदेशी सज्जनों तथा 2500 से ऊपर हिन्दुस्तानियों ने कड़ी जेल की सजा भी भुगती।
\'\'हमें दक्षिणी अ$फरीका के हिन्दुस्तानियों के मुख-पत्र इंडियन ओपिनियन का एक विशेष अंक (गोल्डन नंबर) मिला है। यह पत्र

Read More

Current Issue Article

  • इस संबंध में श्रीयुत गांधी का परिश्रम और अध्यवसाय सर्वथा प्रशंसनीय है।
  • By : ललित सुरजन     View in Text Format    |     PDF Format
  • संस्मरणों की ओट से झांकते अज्ञेय
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • झीनी झीनी रे चदरिया
  • By : उर्मिला शुक्ल     View in Text Format    |     PDF Format
  • कम्बल बेचने वाला
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • गुणा-भाग
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • मृतकों का मार्ग
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • घर
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • परिवर्तन
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • यादों का स्वाद
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • दीन की कील पर कुछ ख्वाब
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
View All Article »