Monthly Magzine
Thursday 26 May 2016

Current Issue

प्रस्तावना
ललित सुरजन

अक्षर पर्व की इस रचनावार्षिकी में धर्म को केन्द्र में रखकर कट्टरता, आतंकवाद, असहिष्णुता, वैचारिक स्वतंत्रता और बुद्धिजीवियों की भूमिका इत्यादि बिन्दुओं पर चर्चा करने का उपक्रम किया गया है। इस हेतु संपादक ने अनेक जाने-माने बुद्धिजीवियों को प्रश्नावली भेजकर उनसे उत्तर चाहे थे। जिन्होंने जवाब भेजे हैं वे इस अंक में प्रकाशित है। उन पर टिप्पणी करने का मेरा कोई इरादा नहीं है बल्कि दिसंबर-2015 की प्रस्तावना में पेरिस पर आतंकी हमले की पृष्ठभूमि में मैंने जो विचार रखे थे उन्हीं पर कुछ और त$फसील के साथ यहां चर्चा करने की इच्छा है। वर्तमान समय में धर्म, धार्मिक कट्टरता, धार्मिक उन्माद

Read More

Current Issue Article

  • अक्षर पर्व की इस रचनावार्षिकी में धर्म को केन्द्र में रखकर कट्टरता, आतंकवाद, असहिष्णुता, वैचारिक स्वतंत्रता और बुद्धिजीवियों की भूमिका इत्यादि बिन्दुओं पर चर्चा करने का उपक्रम किया गया है
  • By : ललित सुरजन     View in Text Format    |     PDF Format
View All Article »