Monthly Magzine
Monday 16 Jan 2017

Current Issue

ललित सुरजन
यह विचार सहसा मन में उठा कि नए साल की शुरूआत ऐसी किसी पुस्तक पर चर्चा के साथ क्यों न की जाए जो मुझे कई तरह से अनूठी लगी हो!
पुस्तक का परिचय थोड़ी देर में अपने आप आपके सामने आ जाएगा, लेकिन उसमें अनूठा क्या है? इसका खुलासा पहले करना बेहतर होगा। इस स्तंभ के नियमित पाठक जानते हैं कि जीवनी साहित्य से मेरा कुछ अतिरिक्त लगाव है। सो जिस पुस्तक की चर्चा यहां हो रही है उसे शायद तकनीकी दृष्टि से जीवनी साहित्य के अंतर्गत रखा जा सकता है। इस शायद में ही पुस्तक का अनूठापन छुपा हुआ है। सामान्य तौर पर आत्मकथा अथवा किसी अन्य के द्वारा लिखे गए

Read More

Current Issue Article

  • यह विचार सहसा मन में उठा कि नए साल की शुरूआत ऐसी किसी पुस्तक पर चर्चा के साथ क्यों न की जाए जो मुझे कई तरह से अनूठी लगी हो!
  • By : ललित सुरजन     View in Text Format    |     PDF Format
  • हर अंधेरे को उजाले में बुलाया जाये
  • By : मीनाक्षी जोशी     View in Text Format    |     PDF Format
  • हिंदी साहित्य का वर्तमान परिदृश्य
  • By : कृष्ण वीर सिंह सिकरवार     View in Text Format    |     PDF Format
  • हुक्काम
  • By : मोहन कुमार नागर     View in Text Format    |     PDF Format
  • ईष्र्या
  • By : गोविन्द माथुर     View in Text Format    |     PDF Format
  • बापू के पगचिह्नों के बीच
  • By : सुरेन्द्र प्रबुद्ध     View in Text Format    |     PDF Format
  • मां (एक)
  • By : बनाफर चन्द्र     View in Text Format    |     PDF Format
  • मुश्किल में
  • By : शंकरानंद     View in Text Format    |     PDF Format
  • मैं शिव नहीं हूं
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
  • सफेद हाथी
  • By : अन्य     View in Text Format    |     PDF Format
View All Article »